10574436_739366542790367_6970152866245128312_n

पिल्केंद्र जी उज्जैन के उन चंद व्यंग्यकरों में से है जो अपने  लेखन से आपके दिमाग की ढीले कब्जों को कसने का माद्दा रखते है | शरद जोशी के चरण चिन्हों का अनुसरण करते अपनी व्यंग्य की पताका ऊचीं रखने वाले पिल्केंद्र जी भी मुकेश जी के साथ उज्जैन(.)कॉम  पर व्यंग्य का कोना संभालेंगे, ऐसा विश्वास है