Posts in category शहर की हलचल


फिल्म रीव्यूमुखपृष्ठशहर की हलचल

फिल्म रीव्यू : निल बटे सन्नाटा

निल बटे सन्नाटा मानक शब्द नहीं है। लेकिन कुछ न होने यानी शून्य की स्थिति पर यह कहावत खूब चलती है। चंदा सहाय (स्वरा भास्कर) …

Read more 0 Comments
अकादमिक गतिविधियाँमुखपृष्ठशहर की हलचल

GIS for Mega Public Events

प्रिय मित्र धर्मेन्द्र सिंह यादव द्वारा लिखित पुस्तक GIS for Mega Public Events – Context of Simhastha (Kumbh) का विमोचन मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह के कर …

Read more 0 Comments
अकादमिक गतिविधियाँमुखपृष्ठशहर की हलचल

बच्चा, कच्ची मिटटी का ढेला

रविवार, २९ नवम्बर २०१५ : आश्रय होटल । मौका था ‘RELATIONSHIP OF PARENTS AND ITS IMPACT ON CHILDREN’ पर एक सेमिनार का, जिसका आयोजन किया …

Read more 0 Comments
खान पानमुखपृष्ठशहर की हलचल

ईलाइट – आधुनिक ‘मिल्क-पार्लर

अपने केमिकल इंजीनियरिंग पृष्ठभूमि के बावजूद ‘चीज़’ और दूध के दूसरे उत्पादों के उद्योग से जुड़े राजेंद्र के आधुनिक मिल्क पार्लर ‘ईलाइट’ के उदघाटन में …

Read more 0 Comments
आपकी आवाजमुखपृष्ठशहर की हलचलशहर की हस्तियाँ

पंडित ओम व्यास ‘ओम’ कि ७ वी पुण्यतिथि

तरणताल के  पिछवाड़े, फ़ूड कोर्ट प्रांगण  में स्थापित ‘हास्य चौबारे’ पर हर वर्ष की तरह पं. ओम व्यास ‘ओम’ को अनूठे अंदाज में श्रद्धासुमन अर्पित …

Read more 0 Comments
मुखपृष्ठशहर की हलचल

नेत्र दान – आपकी ‘दृष्टि’ की विरासत

कभी  उन लाखों दृष्टिहीनों के बारे सोचियेगा, जिन्हें रौशनी का मतलब ही नहीं पता, तो आपको एहसास होगा की आपका नेत्रदान किसी दृष्टिहीन के लिए क्या …

Read more 0 Comments